रविवार, 30 जनवरी 2011

शुक्रवार, 28 जनवरी 2011

गुरुवार, 20 जनवरी 2011

मंगलवार, 4 जनवरी 2011

अव्यवस्था के आगे जांबाजों के हौसले पस्त

- औपचारिक बनकर रह गया भोज एडवेंचर फेस्ट २०११
- प्रतिभागियों की हौसला-अफजाई करने नहीं मिल रहे दर्शक
- कलियासोत मैदान पर दूसरे ही दिन पसरा सन्नाटा
भोपाल।
साहसिक गतिविधियों में हिस्सा लेने आए जांबाज युवा प्रतिभागियों के हौसले सरकारी अव्यवस्थाओं के आगे पस्त हो गए हैं। इन्हें न तो यहां की व्यवस्थाएं रास आ रही हैं और न ही इनके हौसला अफजाई के लिए शहरवासी इनके साहसिक कारनामों को देखने यहां पहुंच रहे हैं। यही नहीं, जिस जोश-खरोश के साथ शुभारंभ अवसर पर यहां सरकारी अमला और जनप्रतिनिधि शामिल हुए थे, दूसरे दिन सन्नाटा पसरा नजर आया। न तो आयोजक के कर्ता-धर्ता थे और न ही दर्शक। ऐसे में जोश, जुनून और बुलंद हौसलों के सहारे झली से आसमां तक में रोमांच पैदा कर देने वाले इन युवा प्रतिभागियों के इरादे और तेवर ठंडे प़ड़ गए हैं।
चेहरों से उ़ड़ा उत्साह
साहसिक गतिविधियों में हिस्सा लेने से पूर्व इसमें शामिल हो रहे प्रतिभागियों के चेहरे खिले हुए थे और खेलों को लेकर खासे उत्साहित नजर आने वाले प्रतिभागी मंगलवार को हारे-थके नजर आए और उनके चेहरों की दबी हुई सी मुस्कान जाहिर कर रही थी कि वे आयोजन को लेकर उनमें कोई उमंग नहीं है।
काउंटर से नहीं मिल रही जानकारी
साहसिक खेलों के पंजीयन एवं इन खेलों का लुत्पᆬ लेने आने वालों को सामान्य जानकारी उपलब्ध कराने यहां काउंटर एवं कंट्रोल रूम बनाए गए हैं, लेकिन यहां से भी लोगों को होने वाली गतिविधियों की जानकारी नहीं मिल पा रही है। ऐसे में मजबूरन लोगों को यहां से निराश होकर लौटना प़ड़ रहा है।
बंगी जंपिंग मशीन व क्रेन का नहीं फिटनेस सार्टिफिकेट
बंगी जंपिंग के लिए यहां मंगलवार को पहुंची मशीन व के्रन के देरी से आने के कारण तकनीकी अमला परेशान होता रहा। दरअसल, सूचना देरी से मिलने की वजह से यह आयोजन के अवसर पर यहां नहीं पहुंच पाई। जानकारी लेने पर पता चला कि इनका फिटनेस सार्टिफिकेट ही नहीं है। चूंकि गतिविधि कराना अनिवार्य है, इसलिए मंगलवार दोपहर तक आनन-फानन में फिटनेस सार्टिफिकेट रिन्युबल के लिए भेजा गया।
सुरक्षा दरकिनार
पैरा मोटरिंग, पैरा सेलिंग आदि में सुरक्षा को दरकिनार किया जा रहा है। हॉंलाकि मंगलवार को हवा का विंड कम होने के कारण प्रतिभागी इसका ज्यादा लुत्फ नहीं ले पाए, लेकिन जिन प्रतिभागियों को इसकी सैर कराई गई, उन्हें सुरक्षा उपकरण जैसे हेलमेट, कैप, नीकेप, एलवो केप आदि प्रदान नहीं किए गए। कम्पास (हवा की विंड पता करने का उपकरण) की व्यवस्था भी नहीं है। इससे प्रतिभागी खतरे को लेकर आशंकित हैं।
मैदान से गायब हॉट एयर बैलून
शुभारंभ अवसर पर महज खानापूर्ति के लिए रखा गया हॉट एयर बैलून दूसरे ही दिन मैदान से गायब नजर आया। जानकारी लेने पर पता चला कि इसके लिए अब तक एक भी एंट्री नहीं आई है। पहले दिन थ्री ईएमई सेंटर का हॉट एयर बैलून यहां लाया गया था। हॉंलाकि एक निजी हॉट एयर बैलून भी है, लेकिन इसे डीजीसीए से उ़ड़ाने के लिए एप्रूबल नहीं मिला है।
अंचल के प्रतिभागियों के भरोसे एडवेंचर फेस्ट
साहसिक खेलों में शहर के युवक-युवतियां कोई स्र्चि नहीं दिखा रहे हैं। भोपाल में एडवेंचर्स को ब़ढ़ावा देने एवं यहां के युवाओं को लुभाने के लिए आयोजित किए गए इस एडवेंचर फेस्ट का पूरा दारोमदार अंचल से आए निःशुल्क हिस्सा ले रहे करीब २०० प्रतिभागियों पर टिका हुआ है। मंगलवार को पैरा सेलिंग के लिए २५ एवं पैरा मोटरिंग के लिए मात्र पांच पंजीयन किए गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रशासन ने भोपाल, बैरासिया एवं फंदा से २०० से अधिक प्रतिभागियों को इन खेलों में शामिल करने की योजना बनाई थी, जिनकी संख्या नाम मात्र की है।

इनका कहना है
बच्चे विभिन्न गतिविधियों में हिस्सा ले रहे हैं। हवा के स्र्ख की वजह से हॉट एयर बैलून उ़ड़ाने में परेशानी आ रही है। हम अपनी ओर से प्रयास कर रहे हैं, लोग धीरे-धीरे स्र्चि लेंगे। यह कार्यक्रम ९ जनवरी तक आयोजित है, इसलिए फिलहाल यह कहना जल्दबाजी होगा कि आयोजन सफल नहीं हो पा रहा है।
- विकास मिश्रा, एसडीएम बैराग़ढ़