मंगलवार, 28 दिसंबर 2010

सोमवार, 27 दिसंबर 2010

शुक्रवार, 17 दिसंबर 2010

सोमवार, 13 दिसंबर 2010

अभिनय में ट्रेनिंग से ज्यादा ऑबर्जवेशन की जरूरतः नंदीश संधू


ख्वाहिश बॉलीवुड में जाने की
कलर्स चैनल पर प्रसारित हो रहे सीरियल 'उतरन' में 'वीर' की भूमिका निभाने वाले नंदीश संधू अपने दमदार अभिनय से दर्शकों के बीच खास पहचान बन ली है। उनकी कामयाबी में उनकी क़ड़ी मेहनत के साथ-साथ किस्मत का भी ब़ड़ा योगदान है। प्रस्तुत है उनसे हुई बातचीत के कुछ अंश...

अपने बारे में कुछ बताइए?
मैं राजस्थान के धौलपुर से हूं और दस साल पहले प़ढ़ाई करने के लिए मुंबई आया था। बचपन से ही मेरी ख्वाहिश एक्टिंग में आने की थी, लेकिन धौलपुर में रहते हुए यह ख्वाहिश को पूरा कर पाना मुश्किल था।
टीवी सीरियल में कैसे आना हुआ?
प़ढ़ाई खत्म होते ही मैंने मॉडलिंग में किस्मत आजमाना शुरू कर दिया। दो साल तक मॉडलिंग करने के साथ ही मैंने सीरियल के लिए ऑडिशन देने शुरू कर दिए। इस दौरान मुझे एकता कपूर के सीरियल कयामत के लिए चुन लिया गया।
एक्टिंग के लिए ट्रेनिंग का कितना महत्व है?
मैंने एक्टिंग की कोई फॉर्मल ट्रेनिंग नहीं ली है। यदि आपका ऑबर्जवेशन अच्छा है तो आप अने सह कलाकारों के साथ काम करते हुए भी सीख सकते हैं। एक्टिंग के लिए किसी तरह की ट्रेनिंग को मैं जरूरी नहीं समझता।
आपका पहला सीरियल कौन सा था? मैंने कॅरिअर की शुस्र्आत बालाजी के सीरियल कयामत से की थी। इसके बाद 'ख्वाहिश' और 'हम ल़ड़कियां' सीरियल में भी मुझे महत्वपूर्ण किरदार की भूमिका मिली।
क्या आप बॉलीवुड में जाना पसंद करेंगे? वैसे मैं फिलहाल सीरियल में इतना व्यस्त हूं कि आगे कुछ सोच नहीं पाता, लेकिन यदि फिल्मों में जाने का मौका मिला तो जरूर जाऊंगा, मेरी भी इच्छा है कि मैं फिल्मों में काम करूं।
तपस्या और इच्छा के साथ काम करने का अनुभव के बारे में बताइए?उतरन में तपस्या का किरदार निभा रही रश्मी देसाई और इच्छा का किरदार निभा रहीं टीना दत्ता दोनों की एक्टिंग की तारीफ सभी कर रहे हैं। उतरन के सभी कलाकार अपना किरदार अच्छे से निभा रहे हैं तभी तो उतरन कलर्स का नंबर वन सीरियल बन चुका है, दर्शक इसे पसंद कर रहे हैं।
कॅरिअर के लिए आपको कितना संघर्ष करना प़ड़?प़ढ़ाई के दौरान मैंने मुंबई की ताज होटल में काम किया, लोगों की जूठी प्लेटें उठाईं। मॉडलिंग के साथ ही सीरियल में काम करने की लिए मेहनत की। फिर भी मैं इस मामले में बहुत लकी हूं, ज्यादा स्ट्रगल नहीं करनी प़ड़ी और आसानी से काम मिल गया।